Sorry Shayari, Sorry Shayari For Boyfriend,and Girlfriend

 Sorry Shayari, Sorry Shayari For Boyfriend,and Girlfriend


तेरी खामोशी अगर तेरी मज़बूरी है, तो रहने दे..... इश्क़ कौन सा ज़रूरी है! 
sorry shayari image,sorry shayari photo

Sorry Shayari Hindi


 *💞मुझको चाहते होंगे और भी बहुत लोग,* *मगर मुझे मोहब्बत सिर्फ अपनी मोहब्बत से है।💞*

Gali Shayari For Friend,Gali Wali Shayari Hindi Me
 कितनी खूबसूरत हुई होगी  तेरे शहर की सुबह, तेरी ही बातें, तेरा ही ख्याल, तेरा ही दीदार सिर्फ तेरी ही जुस्तजू..!! ✍ 



Sorry Shayari in Hindi

न जाने किस बात पे नाराज है पगली  ख्वाब में मिलती भी है...तो
 बात नहीं करती।।


 इज्ज़त उन्ही को दीजिये   जो इज्ज़त बख्शें आपको, ख़ुद को ख़ैरात में बांटने का अब जमाना नही रहा!!!


Sorry Shayari For Bf

 तुमसे होना मोहब्बत मेरी बहुत बड़ी खता थी, और अब बिरह में ना भूल पाना मेरी सजा हैं...


कौन पढ़ता हैं यूँ बेवजह शायरियों को, लोग इनमें अपना दर्द ढूँढते है!! .

प्रकृति हमेशा वही पुराना मज़ाक दोहराती हैं, पहले स्कूल और अब ड्यूटी के टाइम बरसात बंद हो जाती है



Sorry Shayari For Girlfriend लिया  हमने


 है सुकून, ए, दिल किया ये राज़ पा लिया हमने। दुश्मनों  को भी  सीने  से  लगा  लिया  हमने ।।

मेरी  तरफ जो  फेंके थे  ज़माने वालों ने । उन्हीं पत्थरों से एक घर बना लिया हमने ।।


Sorry Shayari For boyfriendमोहब्बत के 

अश्को को‌ निचोङकर दर्द हमने छाने है, कुछ तेरी मोहब्बत के निकले, कुछ शायरी के दिवाने है।

_जीने के लिए नहीं चाहा है तुम्हें,_ _तुम्हें चाहने के लिए जीते हैं अब हम...!!!_



Sorry Shayari For Friendकमबख्त रोशनी मे 

 ❣️❣️ रहने दे ईन अंघेरो मे मुजे गालीब कमबख्त रोशनी मे अपनो के असली चहेरे सामने आ जाते हे..??


उसकी कॉपी का मैं पहला पन्ना बनकर आया था     , वाक़िफ भी था  पहला पन्ना कोरा ही रह जाता है ..


Sorry to Friend Shayariकुछ सवाल 

सिर्फ अल्फाज़ों को न सुनो, कभी ऑखें भी पढो कुछ सवाल बड़े खुद्दार हुआ करते हैं।

प्रेम में डूबी स्त्री को ... बाहर निकलना मुश्किल है


Sorry Love Shayariबहुत मुश्किल है

 और प्रेम में से बाहर निकली स्त्री को .. 
वापस लाना भी बहुत मुश्किल है ...

 दिल के अगर साफ रहोगे तो कम ही लोगों खास रहोगे।।

 कुछ याद आया तो लिखेगें फिर कभी, फिलहाल देखने दो इस झुमके को।।


Sorry Wali Shayariऔर आसमान भी 

किसी का दिल दुखाकर कहाँ जाओगे जो तुम्हें सज़ा देगा जमीन भी उसी की है और आसमान भी

हुस्न पावों में है या पाजेब में... एक तस्व़ीर ने कितना  मुश्किल सवाल पूछा है..❤️..


Sorry ki Shayariतुम्हारा

 तुम्हारा जिक्र हूआ तो महफिल तक छोड़ आए हम,। गैरो के लबों पर हमें तो तुम्हारा नाम तक अच्छा नही लगता..

 ख्वाहिश यही है कि, सिर्फ मेरी निगाहों में रहो  गैर की नजरों में तुम्हारा आना हमें गवारा नहीं...😒 


Sorry Shayari For Wifeमोहब्बत करिए 

मोहब्बत करिए तो जताना भी सीखिए जनाब, ताज महल लाखों ने देखा मगर मुमताज़ ने नहीं...

पिला  दो  खोल  कर  सारे  मैयखाने    की   बोतले.... गर उसका गम भूल गया तो पूरा मैयखाना खरीद लूंगा!

अपने हसीन होंठों को, किसी पर्दे में छुपा लिया करो। हम गुस्ताख लोग हैं, नजरों से चूम लिया करते हैं। 



Sorry Shayari For Love चेहरा अपना

"मुझे #रंगों की ज़रूरत नही चेहरा अपना महकाने को.. एक ख़याल तेरा ही काफी है लबों पे #मुस्कान लाने को..!!!

तन्हा  हुये, वो  इश्क़  में  शामिल नहीं रही। अब प्यार की मिरे जी,वो मंज़िल नहीं रही।।

 पहरों  जहाँ  पे  बैठ  के  वादे  किये थे वो। सैलाब   यूँ  हैं आये, कि साहिल नहीं रही।।


Sorry Shayari For Husbandमहफ़िल

सागर  छलक गये न मिटी प्यास साकिया। अब होश भी है और जी महफ़िल नहीं रही।।

आलम है बे-ख़ुदी का,न कुछ पूछ ऐ ज़हाँ। ख़ामोश क़त्ल कर के वो क़ातिल नहीं रही।।

 लेकर के दिल बज़ार में कब तक खड़े रहें। इसको  खरीद  पाये  वो फ़ाज़िल नहीं रही।।---


Sorry Shayari in Hindi For Friendsप्यार  वाली 

योग्य अब  बे-वफ़ा कहूँ  मैं उसे किस ज़ुबान से। सीने  में  प्यार  वाली  वहाँ  दिल नहीं रही।।

उसने  निग़ाह फेर ली  सोचा मिरा न ग़म। कैसे ये  सोच बैठी  कि क़ाबिल नहीं रही।।

आँसू समायें अब न"बिसरिया"की आँख में। बिस्मिल को देख फिर,कहो क़ातिल नहीं रही।। 


Sorry Shayari in Hindi For Girlfriendतेरे देर तक 

"तेरे देर तक सजने सवरने से मुझे कोई शिकवा नही "खुबसूरत फूल भी कई दिन में खिला करते है।।

 साँचा-ए-इश्क़ में पहले ढाला मुझे, फिर नौचा, चबाया, मार डाला मुझे...

 तेरी यादों का जहर फैल गया है दिल में,  मैंने बहुत देर कर दी है तुझे भुलाने में...

 तेरी यादों का जहर फैल गया है दिल में, मैंने बहुत देर कर दी है तुझे भुलाने में.... 


Sorry Shayari For bf in Hindiमोहताज

कहते हैं अहसास अल्फाजों के #मोहताज नहीं, फिर क्यों.? हमें  तेरे  हर  लफ़्ज़  का  #बेसब्री  से  इन्तजार  रहता  है...

वहम से भी अक्सर खत्म हो जाते है रिश्ते .. कसूर हर बार गलतियों का नहीं होता शायद .. उसने पूछा भी ,,मगर मैनें कहा कुछ भी नहीं ,,

 दिल से उतरे हुए लोगों से शिकायत कैसी ..? लौट #आना इस #उम्मीद पर मेरी । मैं और #मेरा इंतज़ार #तुम से है

सिलसिला #हो, मेरी #सांसों का ।         मेरी रूह का #निखार तुम से #है..



Thanks for coming